आशावर्कर्स से क्यों हो रहा है भेदभाव

| May 22, 2020

 

कोरोना संकट में आशावर्कर्स और आंगनबाड़ी कार्यकर्ता फ्रंटलाइन पर काम कर रही हैं. लोगों को जागरूक करने से लेकर बाहर से आने वालों की जानकारी रखने जैसे तमाम काम इनके हिस्से में हैं लेकिन न तो पीपीई किट मिल रही है और न ही उचित वेतन. अब आशावर्कर्स की सामाजिक-आर्थिक सुरक्षा और उन्हें स्वास्थ्यकर्मियों के बराबर वेतन देने के लिए मजदूर संगठनों ने आवाज उठाई है.


Opinion

Humans of Democracy