सुर्ख़ियां


नागरिकता कानून तानाशाही का नया अभ्यास- शिवानन्द तिवारी

 

वरिष्ठ समाजवादी नेता और जेपी आंदोलनकारी शिवानंद तिवारी का कहना है कि नागरिकता से जुड़े नये कानून देश में तानाशाही का नया अभ्यास है. आरएसएस अपना एजेंडा देश पर थोप रही है. शिवानंद तिवारी का कहना है कि अंग्रेजों के लाये कानून ‘रॉलेट एक्ट’ की तरह है ये कानून, जिसे आज़ादी की लड़ाई की तरह इसे लागू करने से रोकना होगा. उनका साफ तौर पर ये मानना है कि देश के गरीब-पिछड़े-दलित-आदिवासियों को वोट के अधिकार से वंचित करने का ये खेल है. शिवानंद तिवारी से खास बातचीत की हमारे संवाददाता नवेंदु सिन्हा ने.