ममता ने की जनमत संग्रह की मांग

| December 20, 2019

 

नागरिकता कानून के खिलाफ पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बड़ा बयान दिया है. ममता बनर्जी की मोदी सरकार को चुनौती दी और कहा कि एनआरसी और नागरिकता कानून पर निष्पक्ष ढंग से जनता की राय ली जानी चाहिए और इस प्रक्रिया में संयुक्त राष्ट्र या राष्ट्रीय मानव अधिकार की कमेटी को शामिल करें. ममता ने कहा कि बीजेपी संशोधित नागरिकता अधिनियम को हिन्दुओं और मुसलमानों के बीच की एक लड़ाई बनाना चाहती हैं. उन्होंने बीजेपी पर हमला करते हुए कहा कि बीजेपी अपने कार्यकर्ताओं के लिए टोपी खरीद रही है, जो एक विशेष समुदाय को बदनाम करने के लिए इन्हें पहनकर संपत्तियों को नुकसान पहुंचा रहे हैं.


वीडियो