भारत की क्रेडिट रेटिंग गिरने से क्या होगा नुकसान?

NewsPlatform | June 23, 2020

 

रेटिंग एजेंसी मूडीज ने 22 साल में पहली बार भारत की सॉवरेन रेटिंग Baa2 से घटाकर कर Baa3 कर दिया है. ये रेटिंग निवेश के लिहाज से जंक यानी कबाड़ समझे जाने वाले दर्जे से ही उपर है. पिछले 45 साल में बेरोजगारी दर सबसे ज्यादा है. ऐसे में क्या वाकई भारत 5 ट्रिलियन डॉलर की इकॉनमी का लक्ष्य हासिल कर पाएगा या फिर मौजूदा हालात देख कर ये लक्ष्य हासिल करना दूर की कौड़ी है?


वीडियो