Rajneeti : न्यायिक तमाचे से क्या सबक लेगी सरकार?

| September 1, 2020

 

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने 6 महीने से जेल में बंद डॉ. कफील खान की तुरंत रिहाई के आदेश दिए हैं. कफील खान पर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत की गई कार्रवाई को भी अवैध ठहरा दिया है. वहीं दूसरी तरफ दिल्ली हाईकोर्ट ने पिंजड़ा तोड़ आंदोलन से जुड़ी देवांगना कलीता को जमानत दे दी है. दिल्ली पुलिस ने उन पर दंगा भड़काने का आरोप लगाया था. इलाबाहाद हाईकोर्ट और दिल्ली हाईकोर्ट के फैसलों से क्या ये साबित नहीं होता कि सरकार की नीतियों का विरोध करने वालों को बेवजह जेल में डाला जा रहा है? क्या सरकार इससे सबक लेगी?


वीडियो