सुर्ख़ियां


सारकेगुड़ा नक्सल मुठभेड़ मामले को लेकर हंगामा

 

छत्तीसगढ़ सरकार ने सारकेगुड़ा मामले की न्यायिक जांच रिपोर्ट सदन के पटल पर रखा. इसके बाद विधानसभा में जमकर हंगामा हुआ. सारकेगुड़ा मुठभेड़ के वक्त कांग्रेस पार्टी ने भी पार्टी स्तर पर घटना की जांच कराई. साल 2012 में हुए इस मुठभेड़ में 17 लोगों की मौत हुई थी. न्यायिक जांच रिपोर्ट में इस मुठभेड़ पर सवाल उठाए गए हैं. निर्दोष ग्रामीणों की हत्या का आरोप है. उस समय कांग्रेस की जांच कमेटी के कवासी लखमा अध्यक्ष थे. कवासी लखमा जो बस्तर के बड़े आदिवासी नेता भी हैं फिलहाल सरकार में मंत्री हैं. इस मुद्दे पर कवासी लखमा से खास बातचीत की हमारे संवाददाता धीरेन्द्र गिरि ने.