Vishesh Charcha : फसलों के आयात में किसान हित से समझौता क्यों

| June 27, 2020

 

मध्य प्रदेश से लेकर बिहार तक मक्के की न्यूनतम समर्थन मूल्य पर खरीद के लिए आंदोलन हो रहे हैं लेकिन सरकार ने पांच लाख टन मक्के के सस्ते आयात को मंजूरी दे दी है. इसके अलावा मिल्क पाउडर और क्रीम के आयात को भी मंजूरी दी है जबकि डेयरी किसान गिरते दाम से बेहाल हैं. आखिर आयात-निर्यात करने के फैसले करते हुए किसानों के हितों का ध्यान क्यों नहीं रखा जाता है? क्या है सरकार की चुनौती? इसी पर केंद्रित आज की विशेष चर्चा: किसानों पर सस्ते आयात की मार क्यों?


वीडियो