भारत ने उत्तर पूर्व सीरिया में तुर्की के एकतरफा हमले की आलोचना की

india criticizes malyasia's criticism over caa

 

भारत ने कहा कि वह उत्तर पूर्व सीरिया में तुर्की के ‘एकतरफा सैन्य कार्रवाई’ से काफी चिंतित है. साथ ही जोर दिया कि ऐसी कार्रवाई क्षेत्र की स्थिरता एवं आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई को कमजोर करती है.

नौ अक्टूबर को तुर्की के लड़ाकू विमानों और तोपखाने ने सीरिया में कुर्दो के नियंत्रण वाले इलाके को निशाना बनाया था, जिससे हजारों की संख्या में लोगों को घर छोड़कर भागना पड़ा था. इस घटनाक्रम पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा, ‘‘ हम उत्तर पूर्व सीरिया में तुर्की के एकतरफा सैन्य कार्रवाई से काफी चिंतित हैं.’’

उन्होंने कहा, ‘‘तुर्की की कार्रवाई क्षेत्र की स्थिरता और आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई को कमतर कर सकती है.’’

विदेश मंत्रालय के बयान में कहा गया है कि इस कार्रवाई से मानवीय एवं नागरिक संकट की स्थिति पैदा हो सकती है.

मंत्रालय ने कहा, ‘‘हम तुर्की से संयम बरतने तथा सीरिया की सम्प्रभुता एवं क्षेत्रीय अखंडता का सम्मान करने का आग्रह करते हैं. हम सभी मुद्दों का बातचीत एवं चर्चा से समाधान निकालने का आग्रह करते हैं.’’