सुर्ख़ियां


Akhilesh Yadav

 

भाजपा राज में हमारा देश विचित्र विरोधाभास का शिकार हो गया है. देश की राजधानी में सबको न्याय दिलवाने वाले वकील ख़ुद न्याय की माँग कर रहे हैं और सबकी रक्षा करने वाली पुलिस स्वयं की रक्षा की गुहार लगाते हुए अपने प्रमुख के सामने अपने ही प्रोटेक्शन के लिए धरना दे रही है.