सुर्ख़ियां


जन्मतिथि विशेष: बॉलीवुड के पहले रॉकस्टार थे शम्मी कपूर

shammi kapoor death anniversary

बॉलीवुड में शम्मी कपूर को अपने अलग अंदाज के लिए जाना जाता है. उनके अनोखे डांस और शानदार अभिनय का आज भी हर कोई कायल है. अपने बेहतरीन डांसिंग स्टाइल के चलते शम्मी को बॉलीवुड का रॉकस्टार भी कहा जाता था.

14 अगस्त 2011 में शम्मी कपूर का निधन हो गया था. शम्मी कपूर ने अपने अभिनय से साबित कर दिया था कि शम्मी को अभिनय विरासत में मिला है.

शम्मी का जन्म 21 अक्तूबर 1931 में हुआ था. शम्मी कपूर के एक स्कूल का किस्सा भी बेहद खास है शम्मी ने स्कूल के दिनों से ही बाल कलाकार के रूप में काम करना शुरू कर दिया था. शम्मी रात को नाटक करते और सुबह स्कूल नींद में जाते थे. स्कूल वालों ने शम्मी के पिता पृथ्वीराज कपूर को बुलाया, लेकिन पृथ्वीराज कपूर व्यस्त थे जिसके कारण स्कूल वाले से बात करने राज कपूर पहुंचे. राज कपूर से स्कूल वाले ने थिएटर की बुराई करना शुरू कर दिया. राजकूपर ने शम्मी कपूर से बोला तुम इस स्कूल में नहीं पढ़ोगे जिसमें थिएटर की इज्जत नहीं होती.

शम्मी ने साल 1953 में फिल्म जीवन ज्योति से अपना डेब्यू किया. शुरुआत में शम्मी को फिल्मों में खास पहचान नहीं मिली थी. जिसके बाद शम्मी ने अपना लुक बदला. इसके बाद शम्मी के करियर ने रफतार पकड़ी. उन्होंने अपने करियर में कई सुपर हिट फिल्में दी जैसे ‘जंगली,’कॉलेज गर्ल’,’प्रोफेसर’,’चाइना टाउन’,’प्यार किया तो डरना क्या’,’कश्मीर की कली’,’जानवर’,’तीसरी मंजिल’,’अंदाज’.

बात शम्मी के निजी जीवन की करें तो साल 1955 में उन्होंने मशूहर अभिनेत्री गीता बाली से शादी की. दोनों ने शादी अपने घरवालों की मर्जी के खिलाफ की थी. शम्मी कपूर और गीता बाली के दो बच्चे हुए. एक बेटा आदित्य राज कपूर और बेटी कंचन. लेकिन शादी के 10 साल बाद ही गीता का निधन हो गया था. इसके बाद परिवार के दबाव के बाद शम्मी ने दूसरी शादी नीला देवी से की थी.