सुर्ख़ियां


किसानों को बुज़ुर्गों और नौजवानों का भी मिला साथ

kisan march in delhi

आजाद हिंद फौज के गठन के बाद सुभाष चंद्र बोस ने दिल्ली चलो का नारा दिया था. अब एक बार फिर दिल्ली चलो का नारा देते हुए देश भर से किसान दिल्ली आ धमके हैं.

किसानों की जुबान पर संघर्ष के नारे हैं.

किसानों के साथ सहानुभूति दिखा रहे हैं नागरिक समाज के लोग.

जाति-धर्म और क्षेत्र से परे है किसानों का यह आंदोलन.

किसानों के साथ ताल से ताल मिला रहे हैं छात्र संगठन और युवा.

तमाम किसान संगठनों ने किसानों के आक्रोश को आवाज़ दी है.

सभी तस्वीरें – गुरमीत सप्पल