सुर्ख़ियां


आज कटुता को तिलांजलि देने का दिन : नरेन्द्र मोदी

Today is a day to pay tribute to bitterness: Narendra Modi

 

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने राम मंदिर बाबरी मस्जिद पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले का स्वागत करते हुए कहा कि भारत के न्यायपालिका के इतिहास में भी आज का दिन स्वर्णित दिन है. सुप्रीम कोर्ट ने सभी को धैर्य के साथ सुना और फैसला सर्वसम्मति से आया.

उन्होंने कहा कि राम मंदिर के निर्माण का फैसला सुप्रीम कोर्ट ने दे दिया है, इसके साथ ही नागरिक के तौर पर देश की न्यायिक प्रक्रिया का पालन करना.. पहले से अधिक बढ़ गया है.

उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने इस फैसले के पीछे दृढ़ इच्छाशक्ति के दर्शन करवाए.

पीएम मोदी ने सुप्रीम कोर्ट को धन्यवाद दिया.

उन्होंने कहा, ‘ये घटना, इतिहास के पन्नों से उठाई हुई नहीं है, सवा सौ करोड़ जनता एक नया इतिहास लिख रहे हैं.’

उन्होंने कहा कि आज नौ नवंबर को करतारपुर कॉरिडोर की शुरुआत हुई है. इसमें भारत और पाकिस्तान दोनों का सहयोग रहा है. नौ नवंबर की तारीख साथ रहकर आगे बढ़ने की सीख भी दे रही है.

उन्होंने इन विवादों को खत्म करने की बात करते हुए कहा कि इन सारी बातों को लेकर कहीं भी कभी भी किसी के मन में कोई कटुता रही हो तो आज से उसे तिलांजलि देने का भी दिन है. नए भारत में भय, कटुता और नकारात्मकता का कोई स्थान नहीं है.

पीएम मोदी ने कहा कि कठिन-से-कठिन मसले का हल कानून के दायरे में ही आता है.

उन्होंने कहा, ‘हर परिस्थिति में भारत के संविधान भारत की न्यायिक प्रणाली, उस पर हमारा विश्वास अडिग रहे यह बहुत महत्वपूर्ण है.

उन्होंने कहा, ‘नई पीढ़ी नए सिरे से न्यू इंडिया के निर्माण में जुटेगी.’

नरेन्द्र मोदी ने कहा, ‘अब नए भारत का निर्माण करते हैं, हमें अपना विश्वास और विकास इस बात से तय करना है कि हमारे साथ चलने वाला कोई पीछे तो नहीं छूट रहा है.’

उन्होंने कहा कि हर भारतीय को अपने कर्तव्य को प्राथमिकता देते हुए काम करना बहुत अनिवार्य है.

उन्होंने कहा, ‘हमें भविष्य की ओर से देखना, भारत के सामने चुनौतियां और भी हैं, मंजिलें और भी हैं. हर भारतीय साथ चलकर ही इन लक्ष्यों को पूरा करेगा.’

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ईद की शुभकामनाओं के साथ अपनी बात खत्म की.