सुर्ख़ियां


वरिष्ठ एनसीपी नेता डीपी त्रिपाठी का निधन

Senior NCP leader DP Tripathi dies

 

वरिष्ठ एनसीपी नेता और पूर्व सांसद डीपी त्रिपाठी का लंबी बीमारी के बाद दिल्ली में निधन हो गया. वह 67 साल के थे. उनका कैंसर का इलाज चल रहा था. उनके परिवार से जुड़े सूत्रों ने यह जानकारी दी है.

त्रिपाठी राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के महासचिव रहे. उन्होंने छात्र संघ नेता के रूप में अपने राजनीतिक जीवन की शुरुआत की थी.

एनसीपी नेता सुप्रिया सुले  ने उनके निधन पर दु:ख जताते हुए ट्वीट किया, ‘श्री डीपी त्रिपाठी जी के निधन की खबर सुनकर अत्यंत पीड़ा हुई. वह एनसीपी के महासचिव रहे और हमारे मार्गदर्शक थे.’

सुले ने कहा, ‘एनसीपी की स्थापना के बाद से उनके दिए मार्गदर्शन और बुद्धिमतापूर्ण परामर्श को हम नहीं भूल पाएंगे. उनकी आत्मा को शांति मिले. उनके परिवार के सदस्यों के प्रति मेरी संवेदनाएं हैं.’

सीपीएम महासचिव सीताराम येचुरी ने डीपी त्रिपाठी के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए कहा कि उन्होंने अपने छात्र जीवन के समय से लेकर अब तक के सबसे करीबी मित्र को खो दिया है.

येचुरी ने ट्वीट कर कहा, ”कॉमरेड त्रिपाठी साथी छात्र, जीवन के सहयात्री और बहुत कुछ थे. विश्वविद्यालय के दिनों से लेकर उनके जीवन के अंतिम दिनों तक हमारा संवाद अंतहीन था. बहस और असहमति के बीच हमने एक दूसरे से बहुत कुछ सीखा.”

येचुरी ने त्रिपाठी के निधन को निजी तौर पर अपूर्णीय क्षति बताते हुये कहा, ”मेरे मित्र, आपकी कमी बहुत अधिक खलेगी. शोक.”