सुर्ख़ियां


मारुति, महिंद्रा, होंडा, टाटा… नवंबर में गिरी सबकी बिक्री

automobile parts industry is in loss lakhs of job loss

 

कार बनाने वाली देश की सबसे बड़ी कंपनी मारुति सुजुकी इंडिया की बिक्री नवंबर महीने में 1.9 प्रतिशत गिरकर 1,50,630 इकाइयों पर आ गई.

कंपनी ने एक बयान में कहा कि पिछले साल नवंबर में उसने 1,53,539 इकाइयों की बिक्री की थी.

इस दौरान आल्टो और वैगनआर समेत मिनी श्रेणी के वाहनों की बिक्री 29,954 इकाइयों से 12.2 प्रतिशत कम होकर 26,306 इकाइयों पर आ गई.

हालांकि इस दौरान स्विफ्ट, सेलेरियो, इग्निस, बलेनो और डिजायर समेत कॉम्पैक्ट श्रेणी की बिक्री 7.6 प्रतिशत बढ़कर 78,013 इकाइयों पर पहुंच गई.

मध्यम आकार के सेडान वाहन सिआज की बिक्री इस दौरान 3,838 इकाइयों से गिरकर 1,448 इकाइयों पर आ गई. विटारा ब्रेजा, एस-क्रॉस और एर्टिगा समेत यूटिलिटी वाहनों की बिक्री 1.3 प्रतिशत गिरकर 23,204 इकाइयों पर आ गई.

कंपनी ने कहा कि नवंबर में निर्यात भी 7.7 प्रतिशत गिरकर 6,944 इकाइयों पर आ गया.

घरेलू वाहन कंपनी महिंद्रा एंड महिंद्रा (एमएंडएम) की कुल बिक्री नवंबर में 9 प्रतिशत गिरकर 41,235 इकाइयों पर आ गई.

एक साल पहले के इसी महीने उसने 45,101 इकाइयों की बिक्री की थी.

महिंद्रा ने शेयर बाजार को बताया कि घरेलू बाजार में उसकी बिक्री नवंबर 2018 में 41,564 इकाइयों से सात प्रतिशत गिरकर नवंबर 2019 में 38,614 इकाइयों पर आ गई.

नवंबर में निर्यात भी 26 प्रतिशत घटकर 2,621 इकाइयों पर रहा. एक साल पहले इसी महीने में उसने 3,537 वाहनों का निर्यात किया था.

कंपनी की यात्री वाहन श्रेणी की बिक्री 10 प्रतिशत गिरकर 14,637 इकाइयों पर रह गई. नवंबर 2018 में यह आंकड़ा 16,188 इकाई था. इस श्रेणी में कार, वैन और यूटिलिटी वाहन शामिल हैं.

वहीं, वाणिज्यिक वाहनों की बिक्री 12 प्रतिशत गिरकर 17,384 इकाई रही. नवंबर 2018 में यह आंकड़ा 19,673 इकाई था.

महिंद्रा एंड महिंद्रा के वाहन विभाग के बिक्री एवं विपणन प्रमुख विजय राम नकरा ने कहा, ‘त्योहारी मौसम के बाद का महीना (नवंबर) वाहन उद्योग के लिए अच्छा नहीं रहा. विशेषकर यात्री वाहनों के लिए उपभोक्ता मांग साल अंत में जोर पकड़ती है. इसलिए हमें उम्मीद है कि दिसंबर वाहन उद्योग के लिए बेहतर रह सकता है.’

वहीं, महिंद्रा की कुल ट्रैक्टर बिक्री भी नवंबर 2019 में गिरकर 21,032 इकाई रही. एक साल पहले इसी महीने उसने 25,949 ट्रैक्टर की बिक्री की थी.

उसकी घरेलू बाजार में बिक्री नवंबर में 20,414 इकाइयों पर रही, जो एक साल पहले इसी महीने 25,159 इकाइयों पर थी. इस दौरान उसका निर्यात 618 इकाई पर रहा.

टाटा मोटर्स के वाहनों की कुल बिक्री नवंबर महीने में 25.32 प्रतिशत गिरकर 41,124 इकाइयों पर आ गई.

कंपनी ने एक बयान में कहा कि उसने पिछले साल नवंबर में 55,074 इकाइयों की बिक्री की थी.

इस दौरान टाटा मोटर्स की घरेलू बिक्री पिछले साल की 50,470 इकाइयों की तुलना में 25 प्रतिशत गिरकर 38,057 इकाइयों पर आ गई.

कंपनी के यात्री वाहनों की बिक्री भी 39 प्रतिशत गिरकर इस साल नवंबर में 10,400 इकाइयों पर आ गई. पिछले साल नवंबर में कंपनी ने 16,982 यात्री वाहनों की बिक्री की थी.

टाटा मोटर्स के वाणिज्यिक वाहनों की बिक्री भी पिछले साल की 37,957 इकाइयों से 19 प्रतिशत गिरकर 30,588 इकाइयों पर आ गई.

वाहन कंपनी होंडा कार्स इंडिया लिमिटेड की घरेलू बिक्री नवंबर महीने में 50.33 प्रतिशत गिरकर 6,459 इकाइयों पर आ गई.

कंपनी ने एक बयान में कहा कि उसने पिछले साल नवंबर में घरेलू बाजार में 13,006 वाहनों की बिक्री की थी.

कंपनी के वरिष्ठ उपाध्यक्ष एवं निदेशक (बिक्री एवं विपणन) राजेश गोयल ने कहा, ”इस महीने की हमारी जो योजना थी, हमारी बिक्री उससे बेहतर रही है.”

उन्होंने कहा कि कंपनी भारत स्टेज-छह उत्सर्जन मानकों के अनुपालन के आखिरी चरण में है.

हुंडई मोटर इंडिया लिमिडेट की कुल बिक्री नवंबर महीने में 7.2 प्रतिशत बढ़कर 60,500 इकाई रही. एक साल पहले इसी महीने उसने 56,411 वाहनों की बिक्री की थी.

हुंदै मोटर ने रविवार को बयान में कहा कि नवंबर में घरेलू बाजार में उसकी बिक्री दो प्रतिशत बढ़कर 44,600 इकाई रही जबकि नवंबर 2018 में कंपनी 43,709 गाड़ियां बेची थीं.

इस दौरान निर्यात 25.2 प्रतिशत बढ़कर 15,900 इकाई रहा. एक साल पहले नवंबर में उसने 12,702 वाहनों का निर्यात किया था.