देश ने मनाया 70वां गणतंत्र दिवस, जानें खास बातें

Team NewsPlatform | January 26, 2019

Republic Day main attraction of Parade

 

26 जनवरी यानी गणतंत्र दिवस को देश भर में बड़े ही उत्साह के साथ मनाया. साल 2019 में देशवासी 70वें गणतंत्र दिवस का साक्षी बनने जा रहे हैं. अब से 7 दशक पहले 26 जनवरी, 1950 को न सिर्फ देश का संविधान लागू हुआ था बल्कि आज ही के दिन देश के पहले राष्ट्रपति डॉ. राजेंद्र प्रसाद ने शपथ भी ग्रहण की थी.

हर बार की तरह इस बार भी मुख्य आकर्षण दिल्ली के राजपथ पर होने वाली परेड रही.

गणतंत्र दिवस के मौके पर 90 मिनट की होने वाली परेड में 58 जनजातीय अतिथि, विभिन्न राज्यों की झांकियों के साथ सांस्कृतिक, ऐतिहासिक और विकास पर आधारित केंद्र सरकार के विभागों की 22 झांकियां परेड का हिस्सा होंगी. इस समारोह में जहां लोग भारत के लोक नृत्य का आनंद ले सकेंगे .साथ ही राष्ट्रीय पुरस्कार से नवाजे गए 26 बच्चे भी खुली जीप में बैठकर झांकी का हिस्सा बनेंगे.

इसके अलावा भव्य परेड में थल सेना, वायु सेना और नौसेना का शक्ति प्रदर्शन भी देखने को मिलेगा. वहीं 11 साल बाद इस झांकी में महात्मा गांधी की ‘समाधि’ को सुरक्षा कवच मुहैया कराने वाले केंद्रीय अर्ध सैनिक बल के जवान भी हिस्सा लेंगे . बल की झांकी में महात्मा गांधी की समाधि पर सुरक्षा में तैनात जवानों को दिखाया जाएगा.पहली बार गणतंत्र दिवस में आर्मी बैंड ऐसी धुन बजाएगा जो पहली इंडियन मार्शल ट्यून है.इसका नाम शंखनाद है.

गणतंत्र दिवस समारोह की शुरुआत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इंडिया गेट स्थित अमर जवान ज्योति पर शहीदों को पुष्पचक्र चढ़ाकर करेंगे. इसके बाद राजपथ पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद राष्ट्रीय ध्वज फहराएंगे .

गणतंत्र दिवस पर मुख्य अतिथि

गणतंत्र दिवस पर आयोजित होने वाले कार्यक्रम में दक्षिण अफ्रीका के राष्ट्रपति सिरिल रामाफोसा मुख्य अतिथि होंगे. इस दौरे पर राष्ट्रपति रामाफोसा के साथ उनके 9 मंत्री, वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद होंगे . बता दे कि नेल्सन मंडेला के बाद सिरिल रामाफोसा दक्षिण अफ्रीका के ऐसे दूसरे राष्ट्रपति हैं जो भारत के गणतंत्र दिवस पर मुख्य अतिथि के तौर पर शिरकत करेंगे .

महात्‍मा गांधी होंगे झांकियों की थीम

इस बार इन झांकियों की थीम राष्ट्रपिता महात्मा गांधी हैं. सभी झांकियों को इस तरह से बनाया गया है, जिसमें देशवासियों को महात्मा गांधी के जीवन और उनके संदेशों की झलक देखने को मिले.

महिलाएं करेंगी नेतृत्व

राजपथ पर परेड करने वाली आर्मी सर्विस कोर के 144 आर्मी जवानों के दस्ते का नेतृत्व इस बार एक महिला अफसर भावना कस्तूरी करेंगी .बाइक स्टंट करने वाली फेमस डेयरडेविल टीम का नेतृत्व भी एक महिला कैप्टन शिखा सुरभि के द्वारा ही किया जाएगा . वहीं नेवी, इंडिया आर्मी सर्विस कॉर्प्स और कॉर्प्स ऑफ सिग्नल्स की एक टुकड़ी इन सभी का नेतृत्व महिलाएं कर रही होंगीं. पहली बार असम राइफल का एक ऑल विमिन दस्ता भी परेड में शामिल होगा.

नेताजी सुभाष चंद्र बोस के सैनिक भी परेड में शामिल

पहली बार परेड में नेताजी सुभाष चंद्र बोस की सेना इंडियन नैशनल आर्मी में रहे चार सैनिक आईएनए के सैनिक भी परेड में शामिल होंगे .

एम-777 होवित्जर और भारत में बनी के-9 वज्रा आर्टिलरी गन भी शामिल

गणतंत्र दिवस के मौके पर इंडियन आर्मी परेड में अपने नए हथियार और इक्विपमेंट को भी डिस्प्ले करेगी . हाल ही में सेना में शामिल एम-777 होवित्जर और भारत में बनी के-9 वज्रा आर्टिलरी गन भी पहली बार डिस्प्ले में नजंर आएंगी. साथ ही सर्फेस माइन क्लियरिंग सिस्टम और मिडियम रेंज सर्फेस से हवा में मार करने वाली मिसाइल और अर्जुन आर्मर्ड रिकवरी और रिपेयर वीइकल भी शामिल होगा.

जानिए भारत के गणतंत्र बनने की दास्तां

हमारा गणतंत्र, हमारा संविधान


Big News