सुर्ख़ियां


जम्मू-कश्मीर: राहुल ने स्वीकारी गवर्नर की चुनौती

rahul gandhi lay out sarcastic comment on bjp mla over evm malfunction comment

 

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल की चुनौती को स्वीकार कर लिया है.

राहुल गांधी ने ट्वीट करते हुए कहा है कि विपक्ष के नेताओं का एक समूह और मैं जम्मू-कश्मीर और लद्दाख आने के आपके निमंत्रण को स्वीकार करते हैं.

राहुल ने आगे कहा कि हमें किसी विशेष विमान की जरूरत नहीं है, बस आप घाटी में हमारे घूमने और आम लोगों से मिलने की आजादी सुनिश्चित कर दें.

उन्होंने आगे कहा कि राज्यपाल मुख्यधारा के नेताओं और वहां तैनात जवानों से हमारी मुलाकात सुनिश्चि करें.

इससे पहले राहुल गांधी ने घाटी से हिंसा की खबरें आने की बात कही थी.

राहुल ने कहा था,“जम्मू-कश्मीर से हिंसा की कुछ खबरें आई हैं और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पारदर्शी तरीके से इस मामले पर चिंता व्यक्त करनी चाहिए.”

राहुल गांधी के इस बयान पर वहां के गवर्नर सत्यपाल मलिक ने कहा था कि वे कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष को घाटी का दौरा कराने और जमीनी स्थिति का जायजा लेने के लिए विमान भेजेंगे.
राज्यपाल ने कहा था कि राहुल गांधी को अपनी पार्टी के एक नेता के व्यवहार के बारे में शर्मिंदगी महसूस करनी चाहिए जो संसद में ‘‘मूर्ख’’की तरह बात कर रहे थे.

मलिक ने कहा था, ‘‘मैंने राहुल गांधी को यहां आने के लिए न्यौता दिया है. मैं आपके लिए विमान भेजूंगा ताकि आप स्थिति का जायजा लीजिए और तब बोलिए. आप एक जिम्मेदार व्यक्ति हैं और आपको ऐसे बात नहीं करनी चाहिए.’’