पंजाब ने पराली प्रबंधन के लिए केन्द्र से बोनस मांगा

Amarinder Singh accused PM Modi of 'dirty politics'

 

दिल्ली में गंभीर वायु प्रदूषण और इसके लिए पंजाब के किसानों को पराली जलाने से नहीं रोक पाने के लिए दोष मढ़े जाने पर क्षोभ प्रकट करते हुए मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने फसल अवशेष के प्रबंधन के लिए केंद्र से अलग से बोनस प्रदान करने का अनुरोध किया.

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल राष्ट्रीय राजधानी में बढते वायु प्रदूषण के लिए लगातार पड़ोसी राज्यों-हरियाणा और पंजाब में पराली जलाने को जिम्मेदार ठहरा रहे हैं. इस बीच, सिंह ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लिखे एक पत्र में अपना क्षोभ प्रकट करते हुए किसान समर्थक प्रस्ताव दिए हैं .

सिंह ने एक पत्र में कहा, ”कोई भी भारतीय और निश्चित रूप से पंजाब में कोई भी व्यक्ति, राष्ट्रीय राजधानी में हमारे भाइयों के दुख से बेखबर नहीं है.” उन्होंने दुख जताया कि दिल्लीवासी गंभीर वायु प्रदूषण में सांस ले रहे हैं .

उन्होंने सवाल किया, ”कैसे एक देश को विकसित कहा जा सकता है अगर उसकी राजधानी गैस चैंबर बन गई है वो भी प्राकृतिक आपदा से नहीं बल्कि मानव निर्मित कारणों से.”

पंजाब के मुख्यमंत्री ने स्पष्ट किया कि दिल्ली के वायु प्रदूषण के लिए पंजाब अपनी जिम्मेदारी से पल्ला नहीं झाड़ रहा है. उन्होंने माना कि गलत दिशा में बह रही हवा के कारण दिल्ली में वायु प्रदूषण जहरीले स्तर पर पहुंच गया.

मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने कई अवसरों पर प्रधानमंत्री और अन्य केंद्रीय मंत्रियों को पराली के प्रबंधन के लिए किसानों को प्रति क्विंटल 100 रुपये अलग से बोनस देने का सुझाव दिया था.


Opinion

Democracy Dialogues


Humans of Democracy

arun pandiyan sundaram
Arun Pandiyan Sundaram

दिल्ली में गंभीर वायु प्रदूषण और इसके लिए पंजाब के किसानों को पराली

saral patel
Saral Patel

दिल्ली में गंभीर वायु प्रदूषण और इसके लिए पंजाब के किसानों को पराली

ruchira chaturvedi
Ruchira Chaturvedi

दिल्ली में गंभीर वायु प्रदूषण और इसके लिए पंजाब के किसानों को पराली


© COPYRIGHT News Platform 2020. ALL RIGHTS RESERVED.