सुर्ख़ियां


श्रम मंत्री के ‘योग्य युवाओं की कमी’ वाले बयान पर विपक्ष ने सरकार को घेरा

Opposition encircles government on Labor Minister's statement of 'lack of qualified youth'

 

केन्द्रीय श्रम मंत्री संतोष गंगवार ने कहा है कि उत्तर भारत में नौकरी देने के लिए योग्य युवाओं की कमी है. विपक्ष ने गंगवार के इस बयान पर कड़ी प्रतिक्रिया दी है.

गंगवार ने 14 सितंबर को बरेली में कहा ‘‘देश में रोजगार की कमी नहीं है लेकिन उत्तर भारत में जो रिक्रूटमेंट करने आते हैं, इस बात का सवाल करते हैं कि जिस पद के लिए हम (कर्मचारी) रख रहे हैं उसकी क्वालिटी का व्यक्ति हमें कम मिलता है.’’

उन्होंने कहा ‘‘आजकल अखबारों में रोजगार की बात आ रही है. हम इसी मंत्रालय को देखने का काम करते हैं और रोज ही इसी का मंथन करने का काम करते है. बात हमारे समझ में आ गई है. रोजगार दफ्तर के अलावा भी हमारा मंत्रालय इसको मॉनिटर कर रहा है.’’

विपक्ष ने गंगवार को उनके इस बयान के लिए आड़े हाथों लिया.

बसपा प्रमुख मायावती ने ट्वीट किया, ‘‘देश में छाई आर्थिक मंदी के बीच केंद्रीय मंत्रियों के अलग-अलग हास्यास्पद बयानों के बाद अब देश और खासकर उत्तर भारतीयों की बेरोजगारी दूर करने के बजाय यह कहना कि रोजगार की कमी नहीं, बल्कि योग्यता की कमी है, अति शर्मनाक है. इसके लिए देश से माफी मांगनी चाहिए.’’

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने भी केन्द्रीय श्रम मंत्री के इस बयान का कड़ा विरोध किया. उन्होंने ट्वीट किया ‘‘मंत्री जी, पांच साल से ज्यादा वक्त से आपकी सरकार है. नौकरियां पैदा नहीं हुईं. जो नौकरियां थीं वो सरकार द्वारा लायी आर्थिक मंदी के चलते छिन रही हैं. नौजवान रास्ता देख रहे हैं कि सरकार कुछ अच्छा करे.’’

उन्होंने कहा, ‘‘आप उत्तर भारतीयों का अपमान करके बच निकलना चाहते हैं. ये नहीं चलेगा.’’