देश में किसी भी टुकड़े-टुकड़े गैंग की जानकारी नहीं- गृह मंत्रालय

Team NewsPlatform | January 20, 2020

citizenship amendment bill passed in lower house of parliament

 

अब सरकार ने आधिकारिक तौर पर मान लिया है कि देश में कोई टुकड़े-टुकड़े गैंग नहीं है और ना ही इसे लेकर उसके पास कोई जानकारी है.

गृह मंत्रालय ने एक आरटीआई के जवाब में कहा है कि उसके पास टुकड़े-टुकड़े गैंग को लेकर कोई जानकारी नहीं है.

यह आरटीआई सामाजिक कार्यकर्ता साकेत गोखले ने दायर की थी जिसमें यह जानकारी मांगी गई थी क्या भारत के गृह मंत्रालय के पास टुकड़े-टुकड़े गैंग को लेकर कोई जानकारी उपलब्ध है.

आरटीआई में पूछा गया था कि आखिर टुकड़े-टुकड़े गैंग क्या है? इसकी परिभाषा क्या है? इस गैंग के सदस्य कौन-कौन हैं? इस गैंग पर यूएपीए के तहत पाबंदी क्यों नहीं लगाई गई और किस कानून या नियम के तहत इस पर कार्रवाई की जाएगी?

अब जब गृह मंत्रालय ने यह मान लिया है कि देश में कोई टुकड़े-टुकड़े गैंग नहीं है तब साकेत गोखले ने तय किया है कि वो चुनाव आयोग को इसे लेकर पत्र लिखेंगे क्योंकि देश के गृह मंंत्री अमित शाह अक्सर अपने भाषणों में टुकड़े-टुकड़े गैंग का जिक्र करते हैं.

उन्होंने कहा, ‘मैं अब इस पर संज्ञान लेने के लिए चुनाव आयोग को लिख रहा हूं. गृह मंत्री अमित शाह को बताना चाहिए कि उन्होंने रैली में इस शब्द का इस्तेमाल क्यों किया या उन्हें लोगों से झूठ बोलने और उन्हें गुमराह करने के लिए सार्वजनिक रूप से माफी मांगनी चाहिए.’


Big News