सुर्ख़ियां


उन्नाव बलात्कार मामला: पीड़िता का बयान दर्ज करने के लिए जज एम्स पहुंचे

judge reached aiims to account victim statement in unnao gangrape case

 

उन्नाव बलात्कार मामले में एम्स में अस्थाई अदालत लगाई गई. बलात्कार पीड़िता का बयान दर्ज करने के लिए जिला न्यायाधीश धर्मेश शर्मा एम्स पहुंचे.

मामले के एक प्रमुख आरोपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर को इसके लिए एम्स लाया गया. उसके साथ सह-आरोपी शशि सिंह को भी लाया गया.

बीजेपी सेंगर को पार्टी से निष्कासित कर चुकी है.

इससे पहले न्यायाधीश ने 7 सितंबर को एम्स के जय प्रकाश नारायण एपेक्स ट्रॉमा सेंटर में एक अस्थाई अदालत स्थापित करने के निर्देश दिए थे, जहां महिला को 28 जुलाई को एक दुर्घटना के बाद भर्ती कराया गया था. उच्च न्यायालय ने इस मामले में 6 सितंबर को अनुमति दी थी.

उच्च न्यायालय ने शुक्रवार को प्रशासनिक पक्ष से इस आशय की एक अधिसूचना जारी की, जिसमें कहा गया कि मामले की सुनवाई कर रहे विशेष न्यायाधीश शर्मा पीड़िता के बयान दर्ज करेंगे.

महिला ने 2017 में सेंगर पर उसके साथ बलात्कार करने का आरोप लगाया था. घटना के वक्त वह नाबालिग थी. 28 जुलाई को उत्तर प्रदेश के रायबरेली में हुये सड़क हादसे में गंभीर रूप से घायल हुई पीड़िता फिलहाल जीवन के लिए जूझ रही है. उस दुर्घटना में उसकी मौसी और चाची दोनों की मौत हो गई थी. हादसे में उनका वकील भी घायल हो गया था.