सुर्ख़ियां


सांझ लोकस्वामी के संपादक पर 10,000 का इनाम, अखबार का प्रकाशन बंद

honey trap case indore Police declare reward of Rs 10,000 on editor of paper

 

इंदौर से प्रकाशित अखबार सांझ लोकस्वामी के फरार मालिक और संपादक जितेंद्र सोनी पर इंदौर पुलिस ने 10,000 के इनाम की घोषणा की है.

मध्य प्रदेश ‘हनी ट्रैप’ मामले में इस अखबार ने लीक वीडियो और ऑडियो के आधार पर लेख छापा था.

इंदौर पुलिस ने सोनी के दफ्तर को सील कर दिया है. सांध्यकालीन अखबार सांझ लोकस्वामी लगातार दूसरे दिन भी नहीं छप सका.

सोनी के बेटे अमित को पुलिस ने एक दिसंबर को गिरफ्तार कर लिया था. वह 6 दिसंबर तक पुलिस हिरासत में रहेंगे. लेकिन, जितेंद्र सोनी अबतक फरार हैं.

पुलिस ने सोनी के बार और होटल के व्यवसाय पर भी छापा मारा.

संपादक ने हनी ट्रैप मामले में सनसनीखेज खुलासा करते हुए अखबार में तस्वीरें और बातचीत छापी थीं. इसके अलावा वेबसाइट पर एक वीडियो और एक ऑडियो क्लिप डाला था. साथ ही यह इशारा किया था कि इस मामले  में आगे भी कई लेख छापे जाएंगे.

पुलिस ने दो दिसंबर को नौ विभागों के अधिकारियों के साथ सोनी के व्यवसायिक ठिकानों और घर पर छापा मारा. कई घंटे की छानबीन के बाद पुलिस ने मानव तस्करी, भवन और पार्किंग मानदंड का उल्लंघन सहित आर्म्स एक्ट का मामला दर्ज किया है.

इंदौर के नगर निगम के पूर्व अधीक्षक इंजीनियर हरभजन सिंह ने सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम के तहत अखबार के खिलाफ शिकायत दर्ज की थी. अखबार ने सिंह की दो औरतों के साथ तस्वीर छापी थी.

हरभजन सिंह हनी ट्रैप केस में मुख्य शिकायतकर्ता थे. यह मामला सितंबर के मध्य में सामने आया था.

इंदौर की एसएसपी रुची वर्धान ने कहा है कि जांच पूरी होने के बाद पुलिस बताएगी कि उसे क्या-क्या मिला है. पुलिस ने दावा किया है कि उसे प्रोपर्टी के कई कागजात मिले हैं जो सोनी के नाम से पंजीकृत नहीं हैं.