सुर्ख़ियां


गुजरात के मुख्यमंत्री ने माना राज्य का पुलिस और राजस्व विभाग है भ्रष्ट

Chief Minister Vijay Rupani stood police department and Revenue department of the Gujrat Government tops in corruption

 

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने स्वीकार किया कि सरकार का राजस्व विभाग राज्य में भ्रष्टाचार में शीर्ष पर है और दूसरे नंबर पर पुलिस विभाग है. उन्होंने यह भी कहा कि इस बुराई से निपटना एक बड़ी चुनौती है.

मुख्यमंत्री ने भू-मालिकों को 1000 गैर कृषि प्रमाणपत्र के ऑनलाइन वितरण के लिए यहां आयोजित एक जनसभा में कहा, ‘‘राजस्व विभाग राज्य में सबसे अधिक भ्रष्ट विभाग होने के लिए कुख्यात है जबकि पुलिस विभाग दूसरे नंबर पर आता है. इससे निपटने का तरीका ढूंढना वाकई एक चुनौती है.’’

उन्होंने कहा कि ‘शक्ति भ्रष्ट बनाती है और पूर्ण शक्ति पूर्ण रुप से भ्रष्ट बनाती है.’ लेकिन उनकी सरकार एक ऐसी प्रणाली लागू कर भ्रष्टाचार का सफाया करने का प्रयास कर रही है जहां लोग अनुमति और प्रमाणपत्र ऑनलाइन हासिल कर सकते हैं.

उन्होंने कहा कि इस साल नवंबर से राज्य के राजस्व विभाग ने एक ऐसी प्रणाली लागू की जहां भू-मालिक अपने कृषि जमीन को गैर कृषि जमीन में तब्दील करवाने के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं.

उन्होंने कहा, ‘‘ऐसे दिन थे जब सरकारी कर्मचारी थोड़ा नैतिक आधार पर और थोड़ा डर के मारे रिश्वत लेने से कन्नी काटते थे लेकिन आज स्थिति पूरे 360 डिग्री बदल गयी है. सरकारी कर्मचारी बिना किसी हिचकिचाहट के रिश्वत मांगते हैं और दावा करते हैं कि उन्हें अपना परिवार चलाना है.’’