भारतीय कंपनियों का विदेशी कर्ज नवंबर में 6.5 फीसदी बढ़कर 2.12 अरब डॉलर

Team NewsPlatform | January 5, 2020

fdi increased in last financial year in service sector

 

भारतीय कंपनियों का विदेशी कर्ज नवंबर 2019 में सालाना आधार पर 6.5 प्रतिशत बढ़कर 2.12 अरब डॉलर पर पहुंच गई. नवंबर 2018 में यह कर्ज 1.99 अरब डॉलर रहा था.

भारतीय रिजर्व बैंक के आंकड़ों के अनुसार, नवंबर में घरेलू कंपनियों ने 2,11,53,22,022 डॉलर का कर्ज बाह्य वाणिज्यिक ऋण (ईसीबी) के स्वत: मंजूरी मार्ग से जुटाए.

मंजूरी मार्ग से कोई पूंजी नहीं जुटाई गई. शेष 9,86,681 डॉलर का कर्ज रुपये के मूल्य वाले बांड (आरडीबी) जारी कर जुटाए गए.

आलोच्य माह के दौरान ईसीबी के स्वत: मंजूर मार्ग से अडाणी ट्रांसमिशन ने 50 करोड़ डॉलर, टाटा मोटर्स ने 40 करोड़ डॉलर, ओएनजीसी ने 30 करोड़ डॉलर और जेएसडब्ल्यू स्टील ने 25 करोड़ डॉलर जुटाए.

इनके अलावा, होम क्रेडिट इंडिया फाइनेंस ने 6.15 करोड़ डॉलर, निप्रो इंडिया कॉरपोरेशन ने 5.21 करोड़ डॉलर और ओवेन्स-कॉर्निंग इंडिया प्राइवेट लिमिटेड, एक्सॉनमोबिल सर्विसेज ने तीन-तीन करोड़ डॉलर जुटाए.


उद्योग/व्यापार