सीपी जोशी को चुनाव आयोग का नोटिस

Team NewsPlatform | November 24, 2018

ec-ask-cp-joshis-response-deadline-ends2708-2

  twitter.com/drcpjoshi

चुनाव आयोग ने पूर्व केन्द्रीय मंत्री और कांग्रेस प्रत्याशी सीपी जोशी को आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन के आरोप में नोटिस जारी किया है.

जोशी पर आरोप है कि उन्होंने अपनी एक सभा के दौरान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और बीजेपी नेताओं के खिलाफ ‘जातिवादी’ टिप्पणियां की हैं.

मुख्य निर्वाचन अधिकारी आनंद कुमार ने कहा,‘‘निर्वाचन अधिकारी ने जोशी को 23 नवंबर को नोटिस जारी किया.  उनसे 25 नवंबर को सुबह 11 बजे तक जवाब देने को कहा गया है.’’

उन्होंने कहा कि जोशी का जवाब मिलने के बाद ही इस मामले में आगे फैसला किया जाएगा.

जोशी सोशल मीडिया पर वायरल एक वीडियो में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और भाजपा नेता उमा भारती की जाति का जिक्र करते हुए कह रहे हैं कि धर्म पर केवल ब्राह्मण ही बात कर सकते हैं.

अध्यक्ष राहुल गांधी  ने कहा था कि कांग्रेस के सिद्धांतों, कार्यकर्ताओं की भावना का आदर करते हुए जोशीजी को जरूर गलती का अहसास होगा. उन्हें अपने बयान पर खेद प्रकट करना चाहिए.

राहुल की नसीहत के बाद जोशी ने अपने बयान के लिए सार्वजनिक रूप से माफी मांगी. बीजेपी ने इस मामले में उनकी शिकायत निर्वाचन आयोग से की थी.

इसके बाद जोशी ने ट्वीट कर कहा, ”कांग्रेस के सिद्धांतों एवं कार्यकर्ताओं की भावनाओं का सम्मान करते हुए मेरे कथन से समाज के किसी वर्ग को ठेस पहुंची हो, तो मैं उसके लिए खेद प्रकट करता हूं.”

इससे पहले राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा था, ”सीपी जोशी जी का बयान कांग्रेस पार्टी के आदर्शों के विपरीत है. पार्टी के नेता ऐसा कोई बयान ना दें, जिससे समाज के किसी भी वर्ग को दुख पहुंचे.”


ताज़ा ख़बरें

Opinion

Humans of Democracy