छत्तीसगढ़ : नगरीय निकाय चुनाव में कांग्रेस बीजेपी से आगे

Team NewsPlatform | December 25, 2019

baghel requests PM to extend benefits of PM Kisan to tribals forest-dwellers in chhattisgarh

 

छत्तीसगढ़ में हुए नगरीय निकाय चुनाव में राज्य के 151 निकायों में सत्तारूढ़ कांग्रेस ने 923 वार्डों में जीत हासिल की है वहीं भारतीय जनता पार्टी को 814 वार्डों में जीत मिली है.

राज्य निर्वाचन आयोग के अधिकारियों ने मंगलवार को बताया कि बीते शनिवार को नगरीय निकायों के लिए मतदान हुआ था. आज मतों की गिनती की गई. आयोग ने राज्य के कुल 2,831 वार्डों में से 2,032 के लिए चुनाव परिणाम की घोषणा कर दी है. अभी तक के परिणाम में कांग्रेस के उम्मीदवार 923 वार्डों में, 814 वार्ड में बीजेपी के उम्मीदवार, 17 में जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) के उम्मीदवार तथा 278 में निर्दलीय उम्मीदवारों ने जीत हासिल की है.

अधिकारियों ने बताया कि वोटों की गिनती जारी है और शेष 799 वार्ड के परिणाम की घोषणा अभी नहीं की गई है.

उन्होंने बताया शनिवार को जिन नगर निकायों के लिए मतदान हुआ उनमें 10 नगर निगम, 38 नगरपालिका परिषद और 103 नगर पंचायत शामिल हैं.

राजधानी रायपुर नगर निगम के 70 वार्डों में से बीजेपी ने अब तक 23 वार्ड में तथा कांग्रेस ने 22 वार्ड में जीत हासिल की है जबकि निर्दलीय उम्मीदवारों ने दो वार्ड में जीत हासिल की है.

राज्य निर्वाचन आयोग के अधिकारियों ने बताया कि आयोग ने 151 शहरी निकायों के 2,843 वार्ड पार्षदों के लिए आम चुनाव की घोषणा की थी. छह वार्डों में पार्षद निर्विरोध चुने गए. इसके अलावा, तीन वार्डों में कोई नामांकन प्राप्त नहीं हुआ, जबकि दो स्थानों पर सभी नामांकन वापस ले लिए गए. वहीं एक उम्मीदवार की मौत के कारण दोरनापाल नगर पंचायत के एक वार्ड में चुनाव नहीं हुआ. शनिवार को 2,831 वार्डों में पार्षदों के लिए मतदान कराया गया.

राज्य में नए नियमों के अनुसार, नगरीय निकायों के महापौर और अध्यक्षों का चुनाव पार्षदों द्वारा किया जाएगा.

चुनाव परिणाम को लेकर सत्ताधारी दल कांग्रेस का कहना है कि शहरी जनता ने राज्य सरकार द्वारा किए जा रहे कार्यों पर विश्वास किया है. वहीं बीजेपी का कहना है कि नतीजों ने सत्तारूढ़ पार्टी को आईना दिखाया है.

कांग्रेस के प्रवक्ता शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा कि परिणाम के अनुसार कांग्रेस ने बीजेपी से अधिक वार्डों में जीत दर्ज की है, वहीं कई अन्य वार्डों में अभी आगे है.

उन्होंने दावा किया कि शहरी निकायों में कांग्रेस के अधिकतम महापौर और अध्यक्ष होंगे. जनता ने राज्य सरकार के विकास कार्यों पर मुहर लगा दी है.

वहीं भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विक्रम उसेंडी ने कहा कि भूपेश सरकार सिर्फ एक साल में अलोकप्रिय हो गई है. विधानसभा चुनाव में कांग्रेस की बड़ी जीत के बाद नगरीय निकाय चुनावों में भाजपा को जनता की अच्छी प्रतिक्रिया मिली है.

उसेंडी ने कहा कि इस चुनाव में जीत के लिए कांग्रेस ने सभी गलत तरीकों को अपनाया बावजूद वह पूरी तरह से विफल रही. लोगों ने इस चुनाव में कांग्रेस को आइना दिखाया है.


ताज़ा ख़बरें