सुर्ख़ियां


अयोध्या विवाद पर फैसले के मद्देनजर उत्तर प्रदेश में सुरक्षा बढ़ी

CJI gogoi to meet UP chief secretary DGP to review law and order situation

 

चीफ जस्टिस रंजन गोगोई उत्तर प्रदेश में कानून-व्यवस्था की समीक्षा के लिए राज्य के मुख्य सचिव और पुलिस महानिदेशक से शुक्रवार को मुलाकात कर सकते हैं. सूत्रों के आनुसार अयोध्या भूमि विवाद मामले में अगले हफ्ते फैसला आने के मद्देनजर यह बैठक होगी.

सूत्रों के अनुसार चीफ जस्टिस ने उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी और डीजीपी ओम प्रकाश सिंह से बात की है और वह अपने चैंबर में उनसे मुलाकात करेंगे.

राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद भूमि विवाद मामले में लगातार 40 दिन तक सुनवाई चलने के बाद 16 अक्टूबर को फैसला सुरक्षित रख लिया गया था. यह फैसला 17 नवंबर से पहले आने की उम्मीद है क्योंकि चीफ जस्टिस गोगोई उस दिन रिटायर हो रहे हैं.

वहीं सुरक्षा कारणों के चलते उत्तर प्रदेश सरकार ने फैसला आने से पहले प्रशासनिक और पुलिस अधिकारियों को कानून-व्यवस्था दुरुस्त रखने के निर्देश दिए हैं. राज्य सरकार के प्रवक्ता के अनुसार मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि प्रदेश में शान्ति हर हाल में बनाए रखने के लिए अधिकारी पूरी तरह सजग और तत्पर रहें.

उन्होंने स्पष्ट किया कि कानून-व्यवस्था को प्रभावित करने वाले तत्वों के खिलाफ कड़ी कारवाई की जाए.योगी ने अपने सरकारी आवास पर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जारिए वरिष्ठ प्रशासनिक एवं पुलिस अधिकारियों को सुरक्षा के निर्देश दिए है.

उन्होंने अयोध्या सहित प्रदेश के अन्य जनपदों में कानून व्यवस्था की समीक्षा की. साथ ही प्रदेश स्तर पर और प्रत्येक जनपद में एक नियंत्रण कक्ष स्थापित कर तुरन्त संचालित करने के निर्देश दिए. ये नियंत्रण कक्ष 24 घण्टे लगातार कार्य करेंगे.