सुर्ख़ियां


दिल्ली एयरपोर्ट पर दिव्यांग महिला से दुर्व्यवहार, CISF के कमांडर ने माफी मांगी

cisf personnel asks disability rights activist virali modi to get up from wheel chair walk at delhi airport

 

दिव्यांगों के हक के लिए लड़ने वाली विराली मोदी के साथ दिल्ली एयरपोर्ट पर दुर्व्यवहार की खबर है. विराली ने आरोप लगाया है कि सुबह वो दिल्ली से मुंबई जा रही थी जब सुरक्षाकर्मी ने उनके साथ बदसुलूकी की. विराली ने इसकी शिकायत करते हुए केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ) के प्रमुख को पत्र भेजा है.

विराली ने कहा कि मैंने सीआईएसएफ में शिकायत दर्ज कराई है और दिल्ली के सीनियर कमांडर ने मुझसे माफी मांगी है, पर यह काफी नहीं है. इस पर कुछ और होना चाहिए. इन्हें सही ट्रेनिंग दी जानी चाहिए. मुझे लिखित में माफी चाहिए.

विराली नौ सितंबर को दिल्ली से मुंबई की यात्रा कर रही थी जब उन्हें इस बदसुलूकी का सामना करना पड़ा. साल 2006 में रीढ़ की हड्डी में चोट लगने के कारण विराली चल फिर नहीं सकतीं और व्हील चेयर का प्रयोग करती हैं. उन्होंने कहा कि अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डों पर उन्हें कभी भी ऐसी प्रताड़ना का सामना नहीं करना पड़ा है.

विराली 13 वर्ष से व्हीलचेयर पर हैं. उन्होंने कहा कि अपनी दिव्यांगता के कारण उन्होंने अपने निजी व्हील चेयर को चेक इन काउंटर पर दे दिया ताकि उसे सामान के साथ विमान में रखा जा सके.

विराली ने बताया कि जब वह अपनी व्हीलचेयर पर एयरपोर्ट के सुरक्षा परिसर में पहुंची तो सुरक्षा अधिकारी ने उनसे खड़ा होने के लिए कहा. इस पर उन्होंने सुरक्षा अधिकारी को बताया कि 2006 में रीढ़ की हड्डी में चोट आने के कारण वह खड़ी नहीं हो सकती हैं. विराली के इतना कहने पर सुरक्षा अधिकारी ने अपने अफसर को बुला लिया और उनसे कहा कि वह (विराली) खड़े न हो सकने की एक्टिंग कर रही है और यह केवल एक ड्रामा है.

उन्होंने कहा, ‘मैंने अधिकारी को अपना पासपोर्ट भी दिखाने की कोशिश की, जो साबित करता है कि मैं व्हीलचेयर उपयोगकर्ता होने के बावजूद अंतरराष्ट्रीय स्तर पर यात्रा करती हूं, लेकिन वह अपने अधिकारी को बुलाने के लिए चली गई और कहने लगी कि मैं एक्टिंग कर रही हूं और यह नाटक है.’