सुर्ख़ियां


पुण्यतिथि विशेष: बॉलीवुड के ‘गब्बर’ की अनदेखी तस्वीरें

bollywood gabbar amjad khan life through his unseen photos

हिन्दी सिनेमा के गब्बर अमजद खान 27 जुलाई, 1992 में इस दुनिया को छोड़ गए थे. अमजद खान हिन्दी सिनेमा के मशूहर खलनायकों में से एक थे. गब्बर का किरदार निभा कर अमजद ने इस किरदार को अमर कर दिया. आज भी गब्बर के डायलॉग को याद किया जाता हैं. अमजद का जन्म का 12 नवंबर 1940 को पाकिस्तान के पेशावर में जाने माने अभिनेता जकारिया खान के घर हुआ.

अमजद के फिल्मी करियर की शुरुआत साल 1951 में बाल कलाकार के रूप में फिल्म ‘नाजनीन’ से की. इस दौरान अमजद की दिलचस्पी फिल्मों बढ़ती रही. साल 1963 में इन्हें मौका मिला मशूहर निर्देशक के. आसिफ के साथ ‘लव एंड गॉड’ को सहायक निर्देशक के रुप में काम किया. लेकिन इसी बीच के आसिफ का निधन हो गया, जिसके चलते फिल्म पूरी ना हो सकी.

वहीं फिल्म साल 1986 में रिलीज हुई. इस बीच साल में अमजद चोर पुलिस फिल्म में भी नजर आए. अमजद को साल 1973 में फिल्म ‘हिन्दुस्तान’ की कसम फिल्म मिली. इस के बाद अमजद को फिल्म ‘शोले’ फिल्म मिली, जिसमें उन्होंने विलन का किरदार निभाया. लेकिन कौन जाता था ये किरदार सभी को हिला कर रख देगा.

अजमद से पहले ये गब्बर का किरदार डैनी डेन्जोंगपा को मिला था. डैनी ने आखिरी मौके पर मना कर दिया था. जिसके बाद अजमद बन गए उस सदी के महान खलनायक. साथ ही फिल्म भी सुपर हिट साबित हुई. शोले के बाद अमजद  को हिन्दी सिनेमा में एक अलग पहचान मिली.

अमजद खान हिंदी ही नहीं बल्कि अंग्रेजी, तेलुगु, कन्नड़ और मलयालम फिल्मों में भी काम किया था. अमजद ने कसम खून की, परवरिश, इंकार, कसमे वादे, कालिया नसीब, याराना, सत्ते पे सत्ता और लव स्टोरी जैसी सुपर हिट फिल्मों में अभिनय किया. अमजद का बढ़ते वजन के कारण 51 वर्ष की आयु में दिल का दौरा पड़ने से 27 जुलाई 1992 को निधन हो गया था.