जर्मनी-भारत के बीच व्यापक संबंध हैं, सहयोग को बढ़ाएंगे: एंगेला मर्केल

germany india have broad-based ties will build on close cooperation said merkel

 

भारत की दो दिवसीय यात्रा पर आईं जर्मनी की चांसलर एंगेला मर्केल ने शुक्रवार को कहा कि भारत और जर्मनी के बीच कई समझौतों पर हस्ताक्षर किए जाएंगे जो दोनों देशों के बीच व्यापक एवं बेहद करीबी संबधों को रेखांकित करेंगे.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्रपति भवन में मर्केल का स्वागत किया.

बृहस्पतिवार रात को नयी दिल्ली पहुंचीं मर्केल का वहां उनका रस्मी स्वागत किया गया.

उन्होंने संवाददाताओं से कहा कि भारत आने पर उन्हें प्रसन्नता का अनुभव हुआ. वह 5वें आईसीजी (अंतर सरकारी विमर्श) के लिए यहां आई हैं.

मर्केल ने कहा, ” यहां हमारा गर्मजोशी भरा और उदार स्वागत किया गया जिसके लिए मैं प्रधानमंत्री का शुक्रिया अदा करना चाहती हूं. भारत का यह मेरा चौथा दौरा है और मैं यहां एक बेहद दिलचस्प कार्यक्रम में शरीक होने वाली हूं.”

जब वह संवाददाताओं से बातचीत कर रहीं थी तब प्रधानमंत्री मोदी उनके साथ ही थे.

जर्मनी की चांसलर ने कहा, ”जर्मनी और भारत के बीच बेहद करीबी संबंध हैं. हम साझा रूचि के मुद्दों पर बातचीत करेंगे. हमारे बीच कई सहमति पत्रों पर हस्ताक्षर होंगे और कई समझौते भी होंगे. यह दिखाता है कि हमारे संबंध बहुत गहरे और व्यापक हैं.”

उन्होंने कहा कि जर्मनी और भारत के बीच कई वर्षों से सहयोग हो रहा है और भविष्य में इस सहयोग को आधार बनाकर आगे बढ़ा जाएगा.

उन्होंने कहा, ” यह बहुत ही करीबी संबंध है. इस विशाल देश और यहां की विविधता का हम बहुत सम्मान करते हैं.”

शुक्रवार को मर्केल राजघाट पर राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि अर्पित करेंगी.

मर्केल 5वें आईजीसी की प्रधानमंत्री मोदी के साथ सह-अध्यक्षता करेंगी जिसके बाद दोनों नेता प्रेस के लिए बयान जारी करेंगे. दोनों पक्षों के कई समझौतों पर हस्ताक्षर करने की उम्मीद है. इस दौरान वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से कई द्विपक्षीय मुद्दों पर बात करेंगी और दोनों देशों के बीच करीब 20 समझौतों पर हस्ताक्षर होने की उम्मीद है.

वह शाम को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात करेंगी और प्रधानमंत्री के साथ लोक कल्याण मार्ग स्थित उनके आवास पर भी बैठक करेंगी.

शनिवार को जर्मन नेता कारोबारी जगत के प्रतिनिधिमंडल से मिलेंगी और मानेसर, गुड़गांव में कॉन्टिनेंटल ऑटोमोटिव कम्पोनेंट्स इंडिया प्राइवेट लिमिटेड का दौरा करेंगी.

जर्मनी लौटने से पहले, वह द्वारका सेक्टर 21 मेट्रो स्टेशन भी जाएंगी.

दौरे से पहले भारत में जर्मनी के दूत वाल्टर जे लिंडनर ने कहा था कि मोदी और मर्केल के रिश्ते बहुत अच्छे हैं और दोनों किसी भी मुद्दे पर बातचीत कर सकते हैं.

वह दोनों के बीच कश्मीर मुद्दे पर चर्चा होने की संभावना को लेकर पूछे गए सवाल का जवाब दे रहे थे.


Opinion

Democracy Dialogues


Humans of Democracy

arun pandiyan sundaram
Arun Pandiyan Sundaram

भारत की दो दिवसीय यात्रा पर आईं जर्मनी की चांसलर एंगेला मर्केल ने

saral patel
Saral Patel

भारत की दो दिवसीय यात्रा पर आईं जर्मनी की चांसलर एंगेला मर्केल ने

ruchira chaturvedi
Ruchira Chaturvedi

भारत की दो दिवसीय यात्रा पर आईं जर्मनी की चांसलर एंगेला मर्केल ने


© COPYRIGHT News Platform 2020. ALL RIGHTS RESERVED.