लॉकडाउन पर भड़के अमेरिकी उद्योगपति, कहा- ये तानाशाही

Team NewsPlatform | April 30, 2020

over eleven thousand died world wide due to corona virus

 

टेस्ला के चेयरमैन एलन मस्क ने कोरोना वायरस के चलते लगाए गए लॉकडाउन को तानाशाही करार दिया है. उन्होंने कहा कि “लोगों को घर पर रहने की इजाजात दी जानी चाहिए लेकिन उनसे ये कह देना कि वो घरों से बाहर नहीं निकल सकते ये तानाशाही है.

अमेरिका समेत दुनियाभर के देशों में लॉकडाउन में ढील दिए जाने पर अधिकारियों द्वारा सवाल उठाए गए हैं. इस पर मस्क ने गुस्सा जताते हुए ट्वीट किया कि “ये निजी स्वतंत्रता पर हमला है जो अर्थव्यवस्था को बर्बाद कर देगा.”

कैलिफोर्निया के इलेक्ट्रिक कार निर्माता टेस्ला मोटर्स की कमाई पर सामने आए हालिया आंकड़ों पर उन्होंने टिप्पणी करते हुए कहा कि “वो चिंतित है कि उत्पादन दोबारा कब शुरू होगा.”

दरअसल कोरोना वायरस के चलते कैलिफोर्निया में उत्पादन बंद है.

उन्होंने कहा, “घरों में आश्रय या कहें कि संवैधानिक अधिकारों के खिलाफ लोगों को जबरन घरों में कैद कर देना…  भयंकर तरीकों से लोगों की स्वतंत्रता का हमला करना गलत है.  यह अत्याचार है. लॉकडाउन के कारण केवल टेस्ला ही बुरी तरह प्रभावित नहीं होगी. जब लोग इस तूफान का सामना करेंगे उस समय बहुत से छोटी कंपनियां है जो नहीं रहेंगी.”

मस्क स्पेस एक्स नामक कंपनी के भी संस्थापक हैं.

उन्होंने कहा, “मुझे लगता है कि लोग इस पर बहुत नारज होंगे.”

मस्क ने कहा, “उन्हें घरों पर रहने की इजाजत दी जानी चाहिए और उन्हें इसके लिए मजबूर भी किया जा सकता है लेकिन ये कह देना कि वो अपने घरों से नहीं निकल सकते और अगर वो ऐसा करेंगे तो उन्हें गिरफ्तार किया जाएगा, ये तानाशाही. ये लोकतांत्रिक नहीं है. ये स्वतंत्रता नहीं है. लोगों को उनकी स्वतंत्रता वापस दें.”


Big News

Opinion

Humans of Democracy