किराना दुकानों पर कर रहे हैं सब्जी की भी व्यवस्था: इंदौर जिलाधिकारी

Team NewsPlatform | April 27, 2020

assuring that people get vegetables form groccery stores said manish singh

 

इंदौर में जारी कोरोना वायरस के प्रकोप के बीच इंदौर के जिलाधिकारी मनीष सिंह ने उम्मीद जताते हुए कहा कि जिले में स्थिति सामान्य होने में दो महीने का समय लगेगा.

मनीष सिंह ने कहा, ‘आने वाले दिनों में जिले में कोविड संक्रमितों की संख्या बढ़ने की आशंका है. हालांकि उन्होंने कहा कि इससे डरने की जरूर नहीं है. देश में सबसे ज्यादा टेस्टिंग हो रहे जिलों की सूची में हम आते हैं.’

रेजीडेंसी में रविवार को पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने कहा, ‘फिलहाल हम प्रतिदिन 600 सैंपल टेस्ट कर रहे हैं. आने वाले दिनों में टेस्टिंग 1000 तक जा सकती है.’

‘हम प्रतिदिन सैंपल के कलेक्शन की संख्या बढ़ाने पर ध्यान केंद्रित कर रहे हैं. शायद ये देश में सबसे ज्यादा हो. यही वजह कि जिले में अगले कुछ दिनों में संक्रमितों की संख्या में इजाफा हो सकता है. हम आगे भी सैंपल अधिक से अधिक लेंगे क्योंकि जब तक कोरोना की कोई वैक्सीन तैयार नहीं हो जाती संक्रमण को नियंत्रण में रखने का टेस्टिंग ही उपाय है.’

सिंह ने जानकारी दी कि प्रशासन इंदौर में प्रवेश के सभी एंट्री प्वॉइंट पर हरी सब्जियों के लिए पैकिंग सेंटर बना रहा है. उन्होंने कहा कि ये काम जल्द पूरा होगा. सिंह ने कहा, प्रशासन बीते दो दिनों से थोक विक्रेताओं के संपर्क में है हमें उम्मीद है कि अगले तीन-चार दिनों में किराना दुकानों से सब्जी भी लोग तक पहुंचाई जाएगी.

सिंह ने कहा, ‘दूसरा हम लोगों में जागरूकता बढ़ाने के लिए एक व्यापक प्रोग्राम लॉन्च करने पर विचार कर रहे हैं. मौजूदा हालात में शहर को वापस पटरी पर लाने के लिए डेढ़ दो महीने का समय लगेगा.

जिलाधिकारी ने जानकारी दी कि जहां संक्रमण का बहुत अधिक प्रभाव नहीं है वहां प्रशासन लोगों में रोग प्रतिरोधक क्षमता बेहतर करने के लिए लोगों में आयुर्वेदिक दवाइयां बांटने पर विचार कर रहे हैं.


ताज़ा ख़बरें

Opinion

Humans of Democracy