Rajneeti : दिल्ली में कैसे हालात हैं?

| March 28, 2020

 

प्रधानमंत्री मोदी ने 24 मार्च की रात 8 बजे एलान किया कि महज 4 घंटे के भीतर पूरे देश में लॉकडाउन लागू कर दिया जाएगा. देखते ही देखते पूरा देश बंद हो गया. कोरोना को हराने के लिए लॉकडाउन जरूरी हो सकता है, लेकिन ये कदम उठाने से क्या ये सोचना भी जरूरी नहीं था कि रोजाना चंद रुपये कमाकर पेट भरने वाले गरीब-मजदूर कहां जाएंगे, क्या खाएंगे? क्या लॉकडाउन का ऐलान करने से पहले सरकार ने अब पैदा हुए हालात के बारे में सोचा था? अगर सोचा था तो उनसे निपटने के लिए क्या तैयारी की गई थी?


Exclusive