क्या कानून का विरोध अलोकतांत्रिक है

| January 3, 2020

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आम लोगों के प्रदर्शनों को कांग्रेस और उसके सहयोगी दलों का संसद विरोधी आंदोलन बताया है. ऐसा कहने के पीछे दलील ये है कि संसद में पारित कानून का विरोध करने का मतलब है संसद का विरोध करना. क्या लोकतंत्र में जनता को सरकार के लाए किसी कानून के खिलाफ प्रदर्शन करने का अधिकार नहीं है?


Exclusive