सुर्ख़ियां


अशोक लवासा के जुर्म की खोज

 

अखबार में छपी खबर के मुताबिक सरकार ने 11 सरकारी कंपनियों को आदेश दिया है कि वो अपने पुराने रिकॉर्ड्स खंगालकर ऐसा मामला खोज निकालें जिसमें अशोक लवासा ने 2009 से 2013 तक ऊर्जा मंत्रालय में तैनाती के दौरान अपने प्रभाव का गलत इस्तेमाल किया हो. मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा के बाद देश के दूसरे सबसे वरिष्ठ चुनाव आयुक्त अशोक लवासा ने 2019 के लोकसभा चुनाव के दौरान प्रधानमंत्री मोदी और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह से जुड़े आचार संहिता उल्लंघन के 5 मामलों में क्लीनचिट दिए जाने का विरोध किया था. अशोक लवासा की पत्नी, बेटे और बहन के खिलाफ इनकम टैक्स विभाग की कार्रवाई पहले से चल रही है. क्या अशोक लवासा और उनके परिवार को जानबूझकर निशाना बनाया जा रहा है?