सुर्ख़ियां


अभिव्यक्ति (एपिसोड – 19)

 

कैसे बदल गई कार्टूनों की दुनिया, तीखे राजनीतिक कार्टून के लिए क्यों खत्म हो गई मीडिया में जगह. अखबारों में सरकार के खिलाफ कार्टून छापने की हिम्मत नहीं – कहते हैं जाने माने कार्टूनिस्ट काक. फ़ैज़ की नज़्म पर क्यों मचा विवाद और गुलज़ार को दिल्ली से आने वालों से क्यों लगता है डर.