सुर्ख़ियां


नए प्रमोशन नियमः नाराज आरबीआई अधिकारियों ने विरोध जताया

Fiscal and current account deficit increase, balance of payments weakened

 

केंद्रीय बैंक आरबीआई बीते कुछ दिनों से उथल-पुथल के दौर से गुजर रहा है. स्वायत्तता को लेकर केंद्र सरकार से टकराव की खबरों के बाद गवर्नर उर्जित पटेल के इस्तीफा देने के बाद एक बात तो साफ है कि यहां सब कुछ कायदे से नहीं चल रहा था.

अब इसके अधिकारी कुछ दिन पहले हुए एक नीतिगत परिवर्तन को लेकर विरोध पर उतर आये हैं.

खबरों के मुताबिक आरबीआई ने नए नियमों के तहत अपने कर्मचारियों के प्रमोशन नीति में कुछ परिवर्तन किया है. जो फिलहाल इन अधिकारियों को रास नहीं आ रहा है.
मंगलवार को दोपहर के समय शुरू हुआ विरोध प्रदर्शन शाम तक चला.

इस दौरान बैंक के कुछ उच्च अधिकारियों ने विरोध कर रहे लोगों से बातचीत करने की कोशिश भी की.

इससे पहले ज्यादातर ग्रेड में कुछ फीसदी को छोड़कर प्रमोशन अनुभव के साथ अपने आप ही होता था. अब नए फैसले के तहत प्रमोशन ना पाने वालों की संख्या बढ़ जायेगी. यह नया नियम कर्मचारियों को नहीं पसंद आ रहा है.

इससे पहले केंद्रीय बैंक कई वजहों से लगातार चर्चा में रहा था. लगातार मौद्रिक समीक्षाओं में बैंक का ब्याज दरों में कमी ना करना, रिजर्व फंड को सरकार को ट्रांसफर ना करना आदि कुछ वजहें थी, जिनके चलते केंद्र और आरबीआई में टकराव की स्थिति बन पड़ी थी.

इसके बाद आरबीआई के तत्कालीन गवर्नर उर्जित पटेल ने इस्तीफा दे दिया था.

फिलहाल शक्तिकांत दास ने नए आरबीआई गवर्नर के रूप में पदभार संभाल लिया है.