सुर्ख़ियां


पुण्यतिथि विशेषः ”गीत गाता हूँ मैं, गुनगुनाता हूँ मैं ”

vinod mehra death anniversary unknown facts

हिन्दी सिनेमा में विनोद मेहरा ने अपने अभिनय से एक अलग मुकाम हासिल किया था. विनोद के फैंस की लिस्ट उस दौर में काफी लम्बी थी. 13 फरवरी 1945 को उनका जन्म अमृतसर में हुआ था. उन्होनें बॉलीवुड में बतौर बाल कलाकार कदम रखा था.

साल 1971 में फिल्म ‘एक थी रीता’ में विनोद ने अभिनेता के रूप में काम किया. ये फिल्म एक अंग्रेजी नाटक पर आधारित थी. इस फिल्म के बाद साल 1972 में फिल्म ‘अनुराग’ आई. फिल्म ‘अनुराग’से विनोद के फिल्मी करियर को अलग पहचान मिली. जिसके बाद उन्होनें ने ‘अमर प्रेम’, ‘अनुराग’, कुंवारा बाप’ और ‘लाल पत्थर’ जैसी फिल्मों में दमदार अभिनय किया.

विनोद के निजी जीवन की बात करें तो उनकी पहली शादी मीना ब्रोका से हुई थी. ये शादी उन्होनें अपनी मां के कहने पर की थी. शादी के बाद उन्हे दिल का दौरा पड़ा. कुछ समय बाद वे ठीक भी हो गए लेकिन उनकी पहली शादी टूट गई . इस के बाद विनोद ने अभिनेत्री बिंदिया गोस्वामी से शादी कर ली थी. विनोद और बिंदिया का रिश्त भी ज्यादा समय नहीं चल सका.

तीसरी शादी विनोद ने साल 1988 में किरण नाम की लड़की से की थी. शादी के दो साल बाद ही उनकी मौत हो गई. किरण और विनोद के दो बच्चे बेटा रोहन और बेटी सोनिय है.