उत्तर प्रदेश: 3,500 लोग हिरासत में, 14 जिलों में इंटरनेट सेवाएं बंद

Team NewsPlatform | December 20, 2019

anti caa protest six people died in uttar pradesh

 

उत्तर प्रदेश में गुरुवार को सीएए के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान हुई आगजनी और हिंसा की घटनाओं के बाद प्रशासन ने लखनऊ समेत राज्य के 14 जिलों में इंटनेट मोबाइल सेवाएं रद्द कर दी. हिंसक प्रदर्शन के बाद 3,505 लोगों को पुलिस ने हिरासत में रखा है, जिसमें से 200 लोग लखनऊ में हिरासत में रखे गए हैं.

प्रमुख सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी  ने सभी टेलीकॉम ऑपरेटरों और इंटरनेट सेवा प्रदाताओं को शनिवार दोपहर 12 बजे तक एसएमएस और मोबाइल इंटरनेट सेवाएं रद्द करने के आदेश दिया है.

गुरुवार को जारी एक विज्ञपत्ति में उन्होंने कहा कि ये व्हाट्स एप, फेसबुक, यूट्यूब, एसएमएस का गलत इस्तेमाल करने से बचने के लिए किया गया है ताकि स्थितियां जल्द सामान्य हो सकें.

लखनऊ के अलावा गाजियाबाद, बरेली, मऊ, संभल, आजमगढ़, आगरा, कानपुर, उन्नाव, मुरादाबाद, मुजफ्फरनगर, शामली, मेरठ और सहारनपुर में इंटरनेट सेवाएं बंद हैं.

कल सीएए के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान एक व्यक्ति की मौत हो गई तो वहीं 35 लोग घायल हो गए जिसमें 16 पुलिस जवान भी शामिल हैं.

लखनऊ के अलावा पश्चिमी उत्तर प्रदेश के संभल और अमरोहा जिला में भी हिंसा की घटनाएं हुईं.

उत्तर प्रदेश के डीजीपी ओपी सिंह ने कहा कि ‘पुलिस ने एहतियाती कदम उठाएं हैं और जहां कल हिंसा की घटनाएं हुई थीं उन संवेदनशील इलाकों में अतिरिक्त पुलिस बल तैनात किया गया है. इन इलाकों में पुलिस फ्लेग मार्च कर रही है, साथ ही पुलिस लोगों को समूह में एक साथ सड़कों पर निकलने से भी रोक रही है.’

शुक्रवार की नमाज को देखते हुए भी अलग-अलग इलाकों में अतिरिक्त पुलिस बल तैनात है.


Big News