डिटेंशन सेंटर पर झूठ बोल रहे मोदी, 2018 में खुद 46 करोड़ रुपये दिए: तरूण गोगोई

Team NewsPlatform | December 27, 2019

modi govt may continue its hindu nationalist agenda rather than economic reforms says report

 

देश में कोई डिटेंशन सेंटर नहीं होने का बयान देने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को ”झूठा” करार देते हुए वरिष्ठ कांग्रेस नेता तरूण गोगोई ने शुक्रवार को दावा किया कि बीजेपी नीत सरकार ने असम के गोआलपाड़ा जिले में एक डिटेंशन सेंटर बनाने के लिए 46 करोड़ रुपये मंजूर किए थे.

गोगोई ने कहा कि गुवाहाटी उच्च न्यायालय के आदेश के अनुसार असम की उनकी अगुवाई वाली कांग्रेस सरकार ने राज्य में डिटेंशन सेंटर्स की स्थापना की है .

उन्होंने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेयी ने अवैध प्रवासियों के लिए डिटेंशन सेंटर की स्थापना की वकालत की थी .

गोगोई ने संवाददाता सम्मेलन में कहा, ”मोदी झूठे हैं.”

कांग्रेस नेता राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में हाल ही में आयोजित एक रैली में दिए गए मोदी के बयान का जिक्र कर रहे थे जिसमें उन्होंने कहा था कि देश में कोई डिटेंशन सेंटर नहीं है.

गोगोई ने कहा, ”असम के गोआलपाड़ा जिले के मटिया में तीन हजार अवैध प्रवासियों के रहने के मद्देनजर एक बड़े डिटेंशन सेंटर के निर्माण के लिए (प्रधानमंत्री) नरेंद्र मोदी की सरकार ने 46 करोड़ रुपये मंजूर किए थे. वह अचानक कहते हैं कि देश में कोई डिटेंशन सेंटर नहीं है.”

उन्होंने जोर देकर पूछा, ”भाजपा सरकार ने 2018 में किस लिए 46 करोड़ रुपये मंजूर किए. यह दिखाता है कि मोदी झूठे हैं.”

उन्होंने कहा कि गुवाहाटी उच्च न्यायालय के 2008 के निर्देशों के अनुसार राज्य में उनकी अगुवाई वाली कांग्रेस सरकार ने डिटेंशन सेंटर्स की स्थापना की है .

असम में गोगोई ने लगातार तीन बार अर्थात 15 साल तक प्रदेश की कांग्रेस सरकर की अगुवाई की .

उन्होंने कहा, ”वे (भाजपा) कहते हैं कि इन केंद्रों का निर्माण कांग्रेस ने कराया है. हमने उनका निर्माण गुवाहाटी उच्च न्ययालय के आदेश के अनुसार कराया है और वह उन लोगों के लिए है जिन्हें विदेशी अधिकरण ने विदेशी घोषित किया है.”


Big News