मऊ हिंसा : अब तक 19 लोग गिरफ्तार, आरएएफ और पीएसी तैनात

Team NewsPlatform | December 17, 2019

Mau violence: 19 people arrested, RAF and PAC deployed so far

 

संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) का विरोध कर रहे, जामिया मिल्लिया इस्‍लामिया विश्‍वविद्यालय के छात्रों पर हुई पुलिस कार्रवाई के खिलाफ मऊ जिले में 16 दिसंबर की रात भड़की हिंसा के मामले में अब तक 19 लोगों को गिरफ्तार किया गया है.

हालात का जायजा लेने मऊ पहुंचे अपर पुलिस महानिदेशक आशुतोष पाण्‍डेय ने बताया कि दक्षिण टोला इलाके में 16 दिसंबर की रात हुई हिंसा के मामले में अब तक कुल 24 लोगों को चिह्नित कर उनमें से 19 लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है. वारदात के वीडियो फुटेज और अखबारों में छपी तस्‍वीरों के जरिये उपद्रवियों की पहचान की जा रही है.

उन्‍होंने बताया कि हालात के मद्देनजर जिले में इंटरनेट सेवाएं अगले आदेश तक बंद कर दी गई हैं. चौक इलाके से दक्षिण टोला तक दो कम्‍पनी आरएएफ और इतनी ही कम्‍पनी पीएसी बल तैनात किया गया है. बलिया, गाजीपुर और आजमगढ़ जिलों से भी पुलिस बल बुलाया गया है. फिलहाल स्थिति सामान्‍य है.

शहर के सभी मदरसे और स्‍कूल-कॉलेज बंद कर दिये गये हैं. शहरी इलाके की दुकानें भी फिलहाल बंद हैं. जिले में धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा लागू की गयी है. रेलवे तथा स्टेशन बस स्टैण्ड पर भी बल तैनात किया गया है.

मालूम हो कि 16 दिसंबर की शाम जिले के दक्षिण टोला थाना क्षेत्र के अल्पसंख्यक बहुल मिर्जा हाजीपुरा चौक पर सीएए और जामिया मिल्लिया इस्लामिया विश्वविद्यालय में छात्रों पर पुलिस की कार्रवाई के खिलाफ स्थानीय लोगों ने उग्र प्रदर्शन करते हुए दक्षिण टोला थाने को आग के हवाले करने की कोशिश की थी. उपद्रवियों ने थाने के कम्‍प्‍यूटर रूम में जबर्दस्‍त तोड़फोड़ की थी.

दक्षिण टोला के थानाध्‍यक्ष निहार नंदन कुमार के मुताबिक, करीब 300 लोगों की भीड़ शाम को पांच से छह बजे के बीच थाने में जबरन घुस गयी और तोड़फोड़ की. उन्‍होंने थाने की बाहरी दीवार भी गिरा दी.

उन्होंने बताया कि हालात काबू में करने के लिये पुलिस ने आंसू गैस के गोले छोड़े और हवा में गोलियां चलाईं. प्रदर्शनकारियों ने पुलिस वाहन समेत कई गाड़ियां भी फूंक दी थीं.


Big News