हेमंत सोरेन ने सरकार बनाने का दावा पेश किया, 29 दिसम्बर को लेंगे शपथ

Team NewsPlatform | December 25, 2019

hemant soren to take oath as chief mnister of jharkhand on 29th december

 

झारखंड मुक्ति मोर्चा के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन ने मंगलवार की रात झारखंड की राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू से मुलाकात कर सरकार बनाने का दावा पेश किया.

हेमंत सोरेन ने रात पौने नौ बजे बाबूलाल मरांडी की पार्टी जेवीएम के विधायकों समेत पचास विधायकों के साथ राज्यपाल मुर्मू से मुलाकात की. इस मौके पर उनके साथ जेएमएम प्रमुख शिबू सोरेन, कांग्रेस के झारखंड प्रभारी आरपीएन सिंह, आरजेडी नेता तेजस्वी यादव और कांग्रेस हाईकमान के नियुक्त किए केन्द्रीय पर्यवेक्षक टीएस सिंहदेव भी मौजूद थे.

राज्यपाल ने उन्हें शपथ ग्रहण के लिए 29 दिसंबर दोपहर एक बजे का समय दिया है और समारोह का आयोजन रांची के मोरहाबादी के मैदान में होगा.

बाबूलाल मरांडी के झारखंड विकास मोर्चा ने भी अपने तीन विधायकों का समर्थन उनकी सरकार को बिना शर्त देने की घोषणा कर दी.

झारखंड विधानसभा चुनाव में विपक्षी गठबंधन का नेतृत्व करने वाले झारखंड मुक्ति मोर्चा के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन ने राजभवन में राज्यपाल के समक्ष सरकार बनाने का दावा पेश करने के बाद राजभवन के बाहर पत्रकारों से बातचीत में खुद यह जानकारी दी.

हेमंत ने कहा, ”मैं पचास विधायकों के साथ राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू जी से मिला. शपथ ग्रहण की तिथि और समय राज्यपाल की सहमति से 29 दिसंबर दोपहर एक बजे तय किया गया है.”

जेएमएम केप्रवक्ता तथा महासचिव सुप्रियो भट्टाचार्य ने बताया कि हेमंत और उनके अन्य सहयोगियों का शपथ ग्रहण समारोह राष्ट्रीय स्तर का होगा और इसमें देश के विपक्ष के तमाम शीर्ष नेताओं और मुख्यमंत्रियों को भी आमंत्रित किया जायेगा.

प्रदेश कांग्रेस के एक शीर्ष नेता ने नाम न बताने की शर्त पर दावा किया कि हेमंत के शपथ ग्रहण समारोह में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी में से एक नेता जरूर शामिल होंगे.

जेएमएम प्रमुख शिबू सोरेन के घर पर गठबंधन के सभी विधायकों की बैठक में औपचारिक तौर पर हेमंत सोरेन को गठबंधन विधायक दल का नेता चुना गया. जिसके बाद उनके नेतृत्व में सभी लोग राजभवन पहुंचे.

राजभवन के सूत्रों ने इसकी पुष्टि की कि हेमंत सोरेन ने राज्यपाल को जेवीएम के तीन विधायकों समेत कुल 50 विधायकों के समर्थन के पत्र राज्यपाल को अपने सरकार बनाने के दावे के समर्थन में सौंपे हैं. उनके साथ सभी सहयोगी दलों के नेता भी उपस्थित थे.

हेमंत सोरेन ने अपने आवास पर सोमवार की रात आयोजित संवाददाता सम्मेलन में बताया था कि वह अपने सहयोगियों के साथ 27 दिसंबर को रांची के मोरहाबादी मैदान में शपथ ग्रहण करेंगे.। लेकिन उनके इस प्रस्ताव पर राज्यपाल की मुहर लगना बाकी है.

सरकार की संरचना के बारे में पूछे जाने पर कांग्रेस के झारखंड प्रभारी आरपीएन सिंह और हेमंत सोरेन ने बताया था कि वह इसकी विस्तृत चर्चा के लिए दिल्ली जायेंगे और वहां कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और कांग्रेस नेता राहुल गांधी से बातचीत करेंगे.

सोमवार को आए चुनाव परिणामों में विपक्षी गठबंधन ने 81 सदस्यीय विधानसभा में 47 सीटें जीतकर स्पष्ट बहुमत हासिल कर लिया था.

गठबंधन में  जेएमएम को 30 सीटें जीतने में सफलता मिली है वहीं कांग्रेस ने 16 और राजद ने एक सीट जीती है.

सत्ताधारी बीजेपी ने 25 सीटों पर जीत दर्ज की जबकि वर्ष 2014 के चुनावों में उसे 37 सीटें मिली थीं और उसके सहयोगी आजसू को पांच सीटें मिली थीं. इस बार के चुनावों में आजसू ने अलग से उम्मीदवार उतारे थे. आजसू को इन चुनावों में 53 सीटों पर उम्मीदवार उतार कर सिर्फ दो सीटें जीतने में सफलता मिली.


Big News