सुर्ख़ियां


स्पेन: कैटोलोनिया को लेकर तनाव के बीच पिछले चार साल में चौथी बार आम चुनाव

General elections in Spain for the fourth time in the last four years amid tension over Catalonia

 

कैटोलोनिया के अलगाववादी नेताओं को सजा को लेकर चरम तनाव के बीच पिछले चार साल में चौथी बार स्पेन में आम चुनाव हुआ. कैटोलोनिया मुद्दे के के कारण धुर दक्षिणपंथी वोक्स पार्टी का समर्थन बढ़ने की संभावना है .

अप्रैल में हुए चुनाव के बावजूद पर्याप्त समर्थन नहीं मिल पाने के कारण प्रधानमंत्री पेड्रो सांचेज ने फिर से चुनाव करवाया है. पिछले चुनाव में सांचेज की सोशलिस्ट पार्टी ने सबसे ज्यादा सीटों पर जीत हासिल की लेकिन संसद में बहुमत नहीं जुटा पाई.

ओपिनियन पोल से संकेत मिला है कि इस नए चुनाव से भी गतिरोध दूर होने के आसार नहीं हैं. स्पेन की 350 सदस्यीय संसद में वाम या दक्षिणपंथी किसी भी दल को बहुमत मिलने की संभावना नहीं है.

एक बार फिर सोशलिस्ट के सबसे बड़ी पार्टी के तौर पर सामने आने की संभावना है लेकिन अप्रैल में मिली 123 सीटों की तुलना में उसकी सीटें कुछ कम हो सकती हैं. मुख्य विपक्षी कंजरवेटिव पोपुलर पार्टी (पीपी) की संख्या बढ़ सकती है .

मतदान केंद्र सुबह नौ बजे (अंतरराष्ट्रीय समयानुसार आठ बजे) खुले और रात आठ बजे तक मतदान चलेगा. मतदान खत्म होने के कुछ घंटे बाद परिणाम आने की संभावना है .

यह चुनाव ऐसे वक्त हो रहा है जब स्पेन में कैटोलोनिया को लेकर हालिया समय में संकट गहरा गया है.

कुछ दिनों पहले ही स्पेन के शीर्ष न्यायालय ने कैटोलोनिया के नौ अलगाववादी नेताओं को 2017 में आजादी के नाकाम प्रयास में उनकी भूमिका के लिए लंबे समय की सजा सुनाई थी. इसके बाद बार्सिलोना और कातालान के कुछ अन्य शहरों में लोग सड़कों पर उतर पड़े और कहीं-कहीं हिंसक प्रदर्शन हुआ था.