सुर्ख़ियां


पीडीपी के साथ गठबंधन करने वाले अमित शाह ने शिवसेना पर लगाया अवसरवादिता का आरोप

amit shah accused shivsena of opportunism

 

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि महाराष्ट्र में लोगों द्वारा दिये गए जनादेश को धता बताकर धुर विरोधी विचारधारा वाले राजनीतिक दल सिर्फ सत्ता हासिल करने के लिये साथ आए हैं.

‘रिपब्लिक’ टीवी चैनल के कार्यक्रम में शाह ने कहा कि महाराष्ट्र में लोगों ने स्थाई सरकार के लिए मतदान किया और बीजेपी और शिवसेना के चुनाव पूर्व गठबंधन को जनादेश मिला.

उन्होंने कहा कि सिर्फ भाजपा को सत्ता से बाहर रखने के लिए नैतिकता और मूल्यों को ताक पर रखा गया.

शाह ने कहा, ‘क्या मुख्यमंत्री पद की पेशकश कर समर्थन लेना खरीद-फरोख्त नहीं है. मैं एक बार फिर सोनिया गांधी और शरद पवार से कह रहा हूं कि मुख्यमंत्री पद का दावा करें और उसके बाद शिवसेना का समर्थन लें.’

मंत्री ने कहा कि बीजेपी पर खरीद-फरोख्त करने का आरोप लगता है जबकि नवगठित शिवसेना-राकांपा-कांग्रेस गठबंधन ने तो मुख्यमंत्री के पद समेत पूरा अस्तबल ही चुरा लिया.

उन्होंने कहा, ‘मैं एक बार फिर यह स्पष्ट करना चाहता हूं कि हमने शिवसेना को मुख्यमंत्री पद को लेकर कोई आश्वासन नहीं दिया था. यहां तक कि चुनावी रैलियों में भी जब आदित्य और उद्धव ठाकरे मंच पर होते थे हमने कहा था कि देवेंद्र फडणवीस मुख्यमंत्री होंगे. उन्होंने उस समय विरोध क्यों नहीं किया था?’

यह भी पढ़ें- प्रज्ञा ठाकुर ने गोडसे को संसद में बताया देशभक्त, कांग्रेस ने कहा ‘पीएम का संरक्षण मिला हुआ है’